Gramin Bank Pension News-AIRRBEA के प्रयासों से मिली युवाओं को पेंशन- शिव करन द्विवेदी


AIRRBEA के प्रयासों से मिली युवाओं को पेंशन- शिव करन द्विवेदी
gramin bank news airrbea rrb pension
gramin bank pension news
AIRRBEA के प्रयासों से मिली युवाओं को पेंशन- शिव करन द्विवेदी
   पुरानी दुनिया में बुढ़ापे के सहारे के लिए जरूरी पेंशन दी जाती है, लेकिन भारत में 2004 के बाद से पेंशन को बंद कर दिया गया, जिसकी जगह न्यू पेंशन स्कीम ने ले ली, जिसे आजतक किसी ने भी स्वीकार्य नहीं किया है. वर्तमान में भी रेलवे, राज्य सरकारों के कर्मचारी तथा देश में कार्यरत अन्य सरकारी कर्मचारी पुरानी पेंशन को लागू करने के लिए आन्दोलन कर रहें हैं. लेकिन पूरे देश में अभी तक 2004 से बाद किसी को भी पुरानी पेंशन नहीं मिल रही है. राष्ट्रियेकृत बैंको में भी 2010 के बाद किसी को भी पुरानी पेंशन का लाभ नहीं मिल रहा है. लेकिन ग्रामीण बैंक में पहली बार 31 मार्च 2018 तक के सभी कर्मचारियों को पेंशन का लाभ मिलेगा.
AIRRBEA से जुड़े शिव करण द्विवेदी जी ने बताया, दिनांक 25 अप्रैल 2018 को सुप्रीम कोर्ट का निर्यण आने के बाद किसी को भी यह उम्मीद नहीं थी की ग्रामीण बैंको में युवाओं को भी पुरानी पेंशन का लाभ मिल पायेगा. जब भी पेंशन के लिए आन्दोलन होता था, युवा इस आन्दोलन से खुद को जुड़ा हुआ नहीं पाते थे, उन्हें लगता था यह मामला या तो रिटायर स्टाफ से जुड़ा है या फिर 2010 से पहले जॉइन किये लोगो से.
क्योकि सम्पूर्ण भारत में कहीं भी वर्तमान तारीख तक पुरानी पेंशन का लाभ नहीं दिया जा रहा है, यहाँ तक की केंद्र सरकार के सभी विभागों में में पुरानी पेंशन 2004 से ही बंद है. बाकी सभी विभागो व राज्य सरकारों ने भी 2004 के बाद से पुरानी पेंशन को खत्म कर दिया है. पुरे देश में 2004 के बाद जॉइन किये सभी लोगो के लिए NPS (NEW PENSION SCHEME 2004) का प्रावधान है. जिसके तहत कर्मचारी की सैलरी से हर महीने 10% तनखाह की कटौती होती है. राष्ट्रीयकृत बैंको में भी 2010 से पहले जॉइन किये लोगो को ही पेंशन का लाभ मिल रहा है. जबकि ग्रामीण बैंको में 31-03-2018 तक के सभी स्टाफ के लिए पेंशन का प्रावधान हुआ है, जो अपने आप में बहुँत ही बड़ी बात है.
शिव करण द्विवेदी जी ने बताया की युवाओं को पेंशन दिलवाने में AIRRBEA का बहुत ही बड़ा योगदान है, AIRRBEA की पूरी टीम फैसला आने के बाद से लगातार सरकार, वित्त मंत्री, नाबार्ड से लगातार संपर्क बनाये रही. AIRRBEA ने सभी जगह फैसला आने की डेट 25 अप्रैल 2018 से पहले जॉइन किये सभी स्टाफ के लिए इसे लागू करने की मांग की. लेकिन सरकार द्वारा 31 मार्च 2018 तक के सभी कर्मचारियों को इसमें शामिल किया गया है. जिससे AIRRBEA पूरी तरह संतुष्ट नहीं है. और पेंशन के लिए निर्धारित डेट को 25 अप्रैल 2018 करवाने के लिए लगातार प्रयासरत है.

New Pension Scheme details.  क्या है, नेशनल पेंशन सिस्टम ??

ग्रामीण बैंको में पेंशन की डेट 31-03-2018 से 25 अप्रैल 2018 करवाने के लिए प्रयासरत "AIRRBEA"
अभी तक प्राप्त जानकारी के अनुसार 31-03-2018 तक के सभी ग्रामीण बैंक कर्मी पुरानी पेंशन के दायरे में हैं. लेकिन ग्रामीण बैंको की सबसे बड़ी यूनियन, "AIRRBEA" इससे पूरी तरह संतुष्ट नहीं है. AIRRBEA से जुड़े शिव करण द्विवेदी जी ने बताया की, AIRRBEA पेंशन को  लेकर निर्धारित की गई डेट से पूरी तरह संतुष्ट नहीं है. AIRRBEA चाहता है सरकार फैसला आने की तिथि 25 अप्रैल 2018 तक के, सभी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन के दायरे में ले. जिसके लिए यूनियन लगातार प्रयासरत है.

सभी ग्रामीण बैंको ने शुरू की पेंशन लागू करने की कवायद.

नाबार्ड के निर्देशानुसार देश के सभी 643 जिलों में फैली 56 ग्रामीण बैंको ने अपने वर्तमान स्टाफ और रिटायर स्टाफ के लिए पेंशन लागू करने की कवायद तेज कर दी है. नाबार्ड के निर्देशानुसार सभी 56 ग्रामीण बैंक के प्रधान कार्यालयों ने जल्द से जल्द अपने  समस्त क्षेत्रीय कार्यालयों से वर्तमान- रिटायर व मृत स्टाफ का व्योरा माँगा है. जो लोग रिटायर हो चुके हैं. उन्हें बैंक द्वारा निर्धारित फॉर्मेट के अनुसार मांगी गई समस्त जानकारिया बैंक को देनी हैं. मृत स्टाफ के परिजनों से भी निर्धारित फॉर्मेट के अनुसार जल्द से जल्द जानकारिया मांगी गई हैं. फॉर्मेट के लिए अपनी बैंक के नजदीकी क्षेत्रीय कार्यालय से सम्पर्क किया जा सकता है. या फिर किसी मौजदा स्टाफ से फॉर्मेट प्राप्त कर जल्द से जल्द अपनी समस्त जानकारियाँ क्षेत्रीय कार्यालय को प्रदान करें. जिससे पेंशन को जल्द से जल्द लागू किया जा सके.

पहले ही निकल चुकी है, सुप्रीम कोर्ट द्वारा निर्धारित तीन महीने कि अवधि

आपको बता दें, सुप्रीम कोर्ट के आदेश को लागू करने में सरकार पहले ही काफी देरी कर चुकी है, इसलिए सरकार अब ग्रामीण बैंको में भी जल्द से जल्द पेंशन लागू करवाना चाहती है. इसी क्रम में सरकार ने नाबार्ड को पात्र कर्मचारियों से जुडी जानकारी जुटाने को कहा था. जिससे पेंशन के लिए जरूरी फण्ड का अंदाजा हो सके और जल्द से जल्द उसी के अनुसार पेंशन फण्ड बनाया जा सके. आपको बता दें जब तक पेंशन फण्ड नहीं बन पाता है सभी बैंक अपने बजट से कर्मियों को पेंशन का लाभ देंगे. कोई ग्रामीण बैंक लाभ में है या घाटे में. इस बात से पेंशन अप्रभावी रहेगी.

कितनी होगी पेंशन???

ग्रामीण बैंक कर्मियों को कितनी पेंशन मिलेगी इसे लेकर देश के 56 ग्रामीण बैंको के 90000 वर्तमान स्टाफ व 30000 रिटायर स्टाफ के बीच भ्रम की स्थिति है. सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्मो पर ग्रामीण बैंक कर्मियों को इस बारे में चर्चा करते हुए देखा जा सकता है. सभी कर्मचारी एक दुसरे से यही पूछ्तें हैं, की आखिर पेंशन के तहत कितनी रकम मिलेगी..??
लेकिन इसके सही जबाब को लेकर लगातार भ्रम की स्थिति रहती है, आज हम आपको वो फार्मूला बताने जा रहें हैं जिसके तहत ग्रामीण बैंक कर्मियों की पेंशन निर्धारित होगी. यहाँ बताये फोर्मुले के तहत कोई भी ग्रामीण बैंक कर्मी खुद ही अपनी पेंशन कैलकुलेट कर सकता है.
आपको बता दें, ग्रामीण बैंक कर्मियों की पेंशन भी राष्ट्रीयकृत बैंक के कर्मचारियों के समान ही देय होगी. जिसमे मूल वेतन के 50 प्रतिशत तथा महंगाई भत्ता देने का प्रावधान है.

पेंशन के लिए आंदोलनरत कर्मचारियों के लिए उम्मीद की किरण है, यह निर्णय.

हालाँकि ग्रामीण बैंक कर्मियों को पेंशन का लाभ सुप्रीम कोर्ट के फैसले के अनुसार मिला है. जिसे ग्रामीण बैंक से जुडी यूनियन और ग्रामीण बैंक कर्मी पिछले 20 सालों से लड़ रहे थे. ग्रामीण बैंक कर्मियों की मांग का प्रमुख आधार राष्ट्रियकृत बैंको में मिलने वाली पेंशन थी. जिसे सुप्रीम कोर्ट ने सही माना व 25 अप्रैल 2018 को ग्रामीण बैंक कर्मियों के पक्ष में फैसला सुनाते हुए, भारत सरकार को ग्रामीण बैंको में भी राष्ट्रीयकृत बैंको में लागू, बैंकिंग पेंशन स्कीम 1993" के अनुरूप पेंशन लागू करने के आदेश दिया..

यह भी पढ़े.. 
1. updates on pension  for RRB employees.
2. Gramin Bank News सरकारी योजनाएं लागू करने में ग्रामीण बैंक बेहतर - नगर विकास एवं आवास मंत्री
3. पहली तिमाही में SBI को 4,876 करोड़  का शुद्ध नुकसान, पिछली तीन तिमाही  में कुल 15009 करोड़ का भारी नुकसान 
4.भारत सरकार ने जारी किया पेंशन लागू करने का आदेश, 86000 ग्रामीण बैंक कर्मी व 30000 सेवानिवृत्तो में ख़ुशी की लहर !
Previous
Next Post »

12 comments

Click here for comments
Unknown
admin
August 20, 2018 at 8:01 PM ×

sir hum to rah gye .bcz hmne bank 7 may ko join kiya h ......isme hmari kya glti thi ,result to february me hi aa gya tha ....

Reply
avatar
Unknown
admin
August 21, 2018 at 8:48 AM ×

This is safe future for all staff who served

Reply
avatar
Unknown
admin
August 21, 2018 at 9:59 AM ×

Dada mukhrjee Amar rhe.lal Salam lal salam

Reply
avatar
Unknown
admin
August 21, 2018 at 11:19 AM ×

Excellent attempts made by our AIRRBEA Leaders to get such a nice result regarding implementation of pension scheme in all the RRBs at par commercial banks, undoubtedly.

Reply
avatar
Unknown
admin
August 21, 2018 at 11:48 AM ×

Supreme court verdict for pension to rrb employees & its implementation by GOI in holistic way paved the way for Happy days in Rrb families.

Reply
avatar
Unknown
admin
August 22, 2018 at 9:33 AM ×

Rail very good news for all bankers rrb

Reply
avatar
August 24, 2018 at 12:04 PM ×

hmmm... yh to hai.
ab kya kiya skta h..

Reply
avatar
August 24, 2018 at 12:05 PM ×

hmm.. pension is very important for everyone..

Reply
avatar
August 24, 2018 at 12:06 PM ×

dada ka lagya pauda aaj ek bargad ka ped bn chuka h..
dada we all mis u..

Reply
avatar
Unknown
admin
August 25, 2018 at 2:45 AM ×

Good step by GOI for better life

Reply
avatar
Unknown
admin
August 27, 2018 at 7:01 PM ×

Our joining is of 7th April 2018
Missed the benefit by seven days....

Reply
avatar