Gramin Bank News- लगातार बदमाशो के निशाने पर Gramin Bank, सुरक्षा भगवान् भरोसे..??


/2018/09/gramin bank news baroda up gramin bank bank loot robbery lambhua sultanpur security of gramin bank gramin bank news gramin bank updates.html
एकबार फिर से बदमाशो का कहर पर Baroda UP Gramin Bank पर टूटा है, इस बार निशाना बनी है, सुल्तानपुर स्थित Baroda UP Gramin Bank की लम्भुआ स्थित हरिहरपुर शाखा. दो अपाचे बाइक पर सवार होकर आये 5 बदमाशों ने पाँच मिनट में ही स्ट्रांग रूम में रखी 8 लाख से अधिक नकदी को लूट लिया. और वहाँ से फरार हो गये. मंगलवार 11 बजे बदमाशों ने जिस समय इस बारदात को अंजाम दिया. उस समय बैंक में ग्राहक भी मौजूद थे. तमंचो से लैस पाँच बदमाश फ़िल्मी अंदाज में बैंक में घुसे, और एक-एक बदमाश ने बैंक मैनेजर और कैशिएर को तमंचे के दम पर बंधक बना लिया. तथा शेष तीन बदमाशों ने बैंक में मौजूद भीड़ को बंधक बनाया. उसके बाद बदमाशो ने स्ट्रांग रूम की चावियाँ लेकर स्ट्रांग रूम में रखे आठ लाख अड़तालीस हज़ार चार सौ तीस रुपये लूटकर फरार हो गये. इस दौरान बदमाशों ने दहसत फ़ैलाने के लिए बैंक कर्मचारियों व ग्राहकों के साथ मारपीट भी की. तथा बैंक स्टाफ के मोबाइल भी छीन लिए. पूरी बारदात cctv में कैद होने के बाबजूद अभी तक बदमाशों का कोई सुराग नहीं है. क्योकिं बदमाशों ने अपने चेहरे गमछे से ढक रखे थे. आपको बता दें, Baroda UP Gramin Bank लगातार बदमाशों के निशानें पर है, अभी हाल ही में कानपुर में बदमाशों का कहर Baroda UP Gramin Bank की ही नौबस्ता हंसपुरम शाखा पर टूटा था. दिन में दो बजे तीन नकाबपोश बदमाश बैंक में घुसे और ताबड़तोड़ पाँच बम फोड़कर और फायरिंग करते हुए कॅश काउंटर को लूट लिया था. उस घटना में बैंक कर्मियों समेत 6 लोग गंभीर रूप घायल हुए थे. सुल्तानपुर की घटना से पहले भी सोमवार को इलाहबाद बैंक ज्ञानीपुर शाखा के उप-प्रबंधक व चालक को गोलियों का निशाना बनाकर कैश वैन लूटने की कोशिश हुई थी. जिससे सभी बैंक कर्मियों में दहसत का माहौल है.

बदमाशों के लिए सॉफ्ट टारगेट हैं, Gramin Bank.  

आपको बता दें, बदमाशों के लिए Gramin Bank बेहद ही सॉफ्ट टारगेट हैं, Gramin Bank की शाखाएं अधिकतर ग्रामीण इलाकों में होती हैं. सुरक्षा के नाम पर इनमे सिर्फ CCTV ही होतें हैं. जो घटना होने के बाद सिर्फ बदमाशों को पकड़ने के काम आ सकतें हैं. ग्रामीण बैंको की शाखाओं की भौगालिक स्थिति को देखते हुए इनको अतिरिक्त सुरक्षा की जरूरत होती है. लेकिन इन बैंको की सुरक्षा भगवान भरोसे ही होती है. क्योकिं सायद ही किसी ग्रामीण बैंक में कोई सुरक्षा कर्मी तैनात हो. जब भी इस तरह की कोई घटना घटित होती है, बैंक के अधिकारी बैंको में लगे CCTV व सायरन को ठीक करवाने की कोशिश करतें हैं. जो ग्रामीण बैंको की सुरक्षा के लिए नाकाफी साबित होता है. जिन इलाकों में Gramin Bank होतीं हैं, वहाँ सुरक्षा से जुड़े अतिरिक्त जोखिम होतें हैं. फिर भी इन बैंको में कोई सुरक्षा कर्मी नहीं होता है. 
जब भी ग्रामीण बैंको के उच्च अधिकारीयों से यह सवाल किया जाता है. वो ग्रामीण बैंको की कमजोर वित्तीय हालात का हवाला देतें हैं. उनके मुताबिक Gramin Bank इस हालात में नहीं हैं, की अतिरिक्त सुरक्षा गार्ड का भार उठा सकें. जहाँ ग्रामीण बैंको की पूरी सुरक्षा सिर्फ इलाकाई पुलिस की होती है. राष्ट्रियकृत बैंको के अपने हथियारबंद सुरक्षा गार्ड होतें हैं. साथ ही राष्ट्रीयकृत बैंक ऐसे इलाकों में होतें हैं, जो सुरक्षा की द्रष्टि से कम जोखिम वाले होतें हैं. 

अकेले Baroda UP Gramin Bank की ही 924 से अधिक शाखाएँ प्रदेश में हैं. इनमे से अधिकतर ऐसे इलाकों में हैं. जो सुरक्षा की द्रष्टि से बेहद ही जोखिम भरें होतें हैं. बैंक की कमजोर सुरक्षा व्यवस्था बैंक को लगातार बदमाशों के निशाने पर ले आती है. आये दिन बैंक की शाखाएँ बदमाशों के लिए सॉफ्ट टारगेट बन रही हैं. बदमाश दिन दहाड़े भरी भीड़ में बैंक को निशाना बना रहें हैं. चाहे कुछ भी हो प्रबंधन को इतने ही रिसोर्स में से सुरक्षा के लिए बजट निकालना होगा. बैंक की वित्तीय हालात को देखते हुए अगर सभी ब्रांच में गार्ड की तैनाती संभव ना हो तो कम से कम बैंक अपने स्तर से हाई रिश्क वाली ब्रांचो की पहचान करके उन ब्रांचो में गार्ड की तैनाती सुनिश्चित करें. अन्यथा ऐसे ही Gramin Bank का निशाना बनतें रहेंगे. साथ ही बैंक को अपने इंफ्रास्ट्रक्चर को भी मज़बूत करना होगा. बैंक के लिए भवन चुनने से पहले उस जगह की सुरक्षा की कड़ी समीक्षा होनी चाहिए. साथ ही इस समय मौजूद सभी ब्रांचो का सुरक्षा ऑडिट होना चाहिए. अगर कोई ब्रांच हाई रिश्क जोन में हैं तो तत्काल उसका भवन बदलना चाहिए. ब्रांच के कैश के बीमा को 2 लाख से बढाकर कम से कम 10 लाख करना चाहिए. जिससे ऐसी किसी घटनाओं में बैंक के आर्थिक नुकसान को कम किया जा सके.

Previous
Next Post »