Gramin Bank News- Bank Merger Plan-RRB Bank Merger-पंजाब ग्रामीण बैंक का प्रायोजक बैंक होगा PNB


Gramin Bank Bank Merger Plan RRB Bank Merger psu banks merger bank merger news bank merger 2018 merger of banks gramin bank news rrb news rural banks merger gramin banks
पंजाब ग्रामीण बैंक का प्रायोजक बैंक होगा PNB
सरकारी हस्तक्षेप के बाद पंजाब में भी राज्य स्तरीय एक Gramin Bank का रास्ता साफ़ हो चुका है. अभी पंजाब में तीन ग्रामीण बैंक Sutlej Gramin Bank, Malwa Gramin Bank और Punjab Gramin Bank हैं. Sutlej Gramin Bank का प्रायोजक Punjab & Sind Bank, Malwa Gramin Bank का प्रायोजक बैंक SBI तथा Punjab Gramin Bank का प्रायोजक बैंक PNB है. लेकिन तीनों बैंको के विलय के बाद बनने वाली नयी ग्रामीण बैंक का प्रायोजक बैंक PNB होगा. जिसका नाम Punjab Gramin Bank होने की संभावना है!

यह भी पढ़े..
3.वन बेल्ट- वन रोड की वजह से कंगाल हुआ पाकिस्तान

24 जिलों में, 405 ब्रांचो का नेटवर्क
Sutlej Gramin Bank की 31 ब्रांचोMalwa Gramin Bank की 89 ब्रांचो तथा Punjab Gramin Bank की 285 ब्रांचो को मिलाकर बनने वाले नयी Punjab Gramin Bank की ब्रांचो की संख्या 405 हो जाएगी. अभी Sutlej Gramin Bank पंजाब के 6 जिलोंMalwa Gramin Bank पंजाब के पाँच जिलों तथा Punjab Gramin Bank पंजाब के 13 जिलों के ग्रामीण इलाकों में काम कर रही हैं. लेकिन मर्जर के बाद  पुरे पंजाब के 24 जिलों में Punjab Gramin Bank का नेटवर्क फ़ैल जाएगा. और इन तीनों बैंको की सभी शाखाएँ Punjab Gramin Bank की शाखाएँ हो जायेंगी. तथा इन तीनों ही बैंक में काम करने वाले सभी कर्मचारी मर्जर के बाद Punjab Gramin Bank के कर्मचारी बन जायेंगे.  
 यह भी पढ़े.. 
Amalgamation Of Gramin Banks(RRBs)

आपको बता देंभारत सरकार ग्रामीण बैंको के विलय की प्रक्रिया को चरणबद्ध तरीके से आगे बढ़ा रही है। एक समय पुरे देश में 196 Gramin Bank काम कर रही थीं. Gramin Bank की संख्या इतनी अधिक होने की वजह से इनका बाज़ार में टिके रहना मुश्किल हो रहा था. इसीलिए सरकार ने Gramin Banko से जुडी यूनियनो की बात मानते हुए चरणबद्ध तरीके से Gramin Banko के विलय के प्रस्ताव को मंजूरी दी. सबसे पहले 2004-05 में सरकार Gramin Banko का विलय करके इनकी संख्या 196 से 82 कर दी. 2015 में एक बार पुनः सरकार ने Gramin Banko के विलय की प्रक्रिया को आगे बढाया. और इस बार इनकी संख्या 56 तक सीमित कर दी. अब एक बार फिर सरकार Gramin Banko के विलय की प्रक्रिया को आगे बढाने जा रही है. और इस बार सरकार इनकी संख्या 30 के आस पास सीमित होने की संभावना है.  
अभी तक जो स्थिति बन रही है उसमें कुछ बड़े राज्यो में एक से ज्यादा Gramin Bank रहने की संभावना है, लेकिन आगे चलकर इन राज्यो में भी सिर्फ एक ही Gramin Bank बचेगा। 



सरकारी हस्तक्षेप के बाद तेज़ हुई, विलय की प्रक्रिया.

सरकारी हस्तक्षेप के बाद आखिरकार ग्रामीण बैंको के विलय की प्रक्रिया में तेज़ी आयी है। पहले जहाँ प्रायोजक बैंको में प्रयोजन को लेकर भारी मतभेद दिखाई दे रहे थे. वही अब  सरकारी दिशा-निर्देश मिलते ही प्रायोजक बैंको में भी ग्रामीण बैंको के प्रयोजन को लेकर तेज़ी से सहमती बनती जा रही है। अभी तक बिहार, गुजरात, पंजाब और उत्तर प्रदेश को लेकर स्थिति लगभग साफ हो चुकी है। जहाँ UP Gramin Bank का प्रायोजक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया होगा, Gujrat Gramin Bank का प्रायोजक  बैंक ऑफ बड़ौदा, तथा  पंजाब और बिहार ग्रामीण बैंक का जिम्मा पंजाब नेशनल बैंक के पास होगा।

यह भी पढ़े..
3.क्या हैनेशनल पेंशन सिस्टम ??
4.सिर्फ 34 ग्रामीण बैंक ही अब होगें देश में !

Previous
Next Post »