BUDGET 2019 - नौकरीपेशा के लिए क्या मिला ????

BUDGET 2019 - नौकरीपेशा के लिए क्या मिला ????
1- 5 लाख तक सालाना आमदनी पर कोई टैक्स नहीं।
2 - स्टैण्डर्ड डिडक्शन 40 हज़ार से 50 हज़ार हुआ 
3- सालाना 40 हज़ार तक का व्याज टीडीएस मुक्त 
4- ग्रैच्युटी की सीमा 10 लाख से 20 लाख हुई.
5- मैटरनिटी लीव अब 26 हफ्ते की हो गई है.
6- जिनका EPF कटता है, उनको 6  लाख का बीमा।

RRBNEWS:- नौकरीपेशा लोगों के लिए बजट अच्छा रहा है. नौकरीपेशा लोगो के लिए टैक्स की सीमा सीधे 2.5 लाख से बढ़ाकर पाँच लाख  कर दी गयी है. इस दायरे में आने वाले लोगों को कोई टैक्स नहीं देना होगा . इससे पहले 5 लाख रूपये इनकम वाले कम से कम 13000 रूपये टैक्स के रूप में देते थे. 
interim-budget-2019-budget-2019-live-budget-schedule-budget-2019-date-budget-2019-new-tax-slab-in-budget-2019-5-lakh-income-is-tax-free-income-tax-rebate-on-5-lac-yearly-income-budget-2019-who-gains-and-how-much

लेकिन अब उन्हें उतनी ही इनकम के लिए कोई टैक्स नहीं देना होगा।  आपको बता दें, मोदी सरकार ने 2014 में सत्ता में आने के बाद से टैक्स स्लैब में कोई बद्लाव नहीं किया था. लेकिन 2019 के आम चुनाव में सरकारी कर्मचारियों की नाराज़गी से बचने के लिए सरकार ने चुनाव से 2 महीने पहले टैक्स स्लैब में इतना बड़ा बदलाव किया है . जो नौकरीपेशा लोगो के लिए बड़ी राहत है. 

स्टैण्डर्ड डिडक्शन की सीमा को बढाकर  40 हज़ार सालाना
इसके अलाबा सरकार ने स्टैण्डर्ड डिडक्शन की सीमा को बढाकर  40 हज़ार सालाना से 50 हज़ार सालाना कर दिया है. इसमें 10 हज़ार की बढ़ोतरी की गई है. जोकि एक अच्छा कदम है.

सालाना 40 हज़ार तक के व्याज पर कोई टीडीएस नहीं
अब सालाना 40 हज़ार तक के व्याज पर कोई टीडीएस नहीं काटा जाएगा। 60 साल तक की उम्र लोगो से बैंक या पोस्ट ऑफिस डिपॉजिट्स के लिए सालाना 40 हज़ार तक कोई टीडीएस नहीं देना होगा।  पहले यह सीमा 10 हज़ार रूपये सालाना थी. यह भी नौकरीपेशा लोगो के लिए एक अच्छी खबर है. क्योकि नौकरीपेशा लोग अपनी इनकम का एक हिस्सा जरूर बचाते हैं. इसके अलावा रेंट देने वाले नॉन -इंडीविजुअल्स के लिए TDS लिमिट को बढ़ाया गया है। 

ग्रैच्युटी की सीमा 20 लाख रूपये
नौकरीपेशा लोगो को मिलने वाली ग्रैच्युटी की सीमा को भी सरकार ने बड़ा दिया है. अब यह सीमा 20 लाख रूपये हो गई है. पहले ग्रैच्युटी की सीमा 10 लाख रूपये थी. इसे भी नौकरीपेशा लोगो के लिए एक अच्छी खबर के रूप में देखा जाना चाहिए। 

मैटरनिटी लीव अब 26 हफ्ते हो गई है. और लोग EPFO में रजिस्टर्ड हैं, उनको 6 लाख का बीमा भी सरकार की तरफ से मिलेगा। 

टोटल मिला कर देखा जाए, तो नौकरीपेशा लोगो के लिए यह बजट अच्छा कहा जाएगा। 

हालांकि इस बजट में असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगो के लिए जिस प्रधानमंत्री श्रम योगी मनधन' योजना की घोषणा की हुई है. वो सिर्फ एक छलाबा है. हमारा अगला आर्टिकल इस नयी योजना पर ही होगा। 


interim-budget-2019-budget-2019-live-budget-schedule-budget-2019-date-budget-2019-new-tax-slab-in-budget-2019-5-lakh-income-is-tax-free-income-tax-rebate-on-5-lac-yearly-income-budget-2019-who-gains-and-how-much
Previous
Next Post »