Punjab Gramin Bank (PGB)-सरकारी नीतियों की वजह से उद्देश्य से भटकी ग्रामीण बैंक, निजीकरण को बढ़ाबा दे रही सरकार


Punjab Gramin Bank (PGB)-सरकारी नीतियों की वजह से उद्देश्य से भटकी ग्रामीण बैंक, निजीकरण को बढ़ाबा दे रही सरकार 
punjab-gramin-bank-pgb-sutlej-gramin-bank-malwa-gramin-bank-gramin-bank-news-gramin-bank-updates-gramin-bank-merger-government-amalgamates-three-regional-rural-banks-merges-punjabs-3-regional-rural-banks-mer

पंजाब की तीनो ग्रामीण बैंको Sutlej Gramin Bank, Malwa Gramin Bank और Punjab Gramin Bank (PGB)  का विलय करके राज्य स्तरीय एक ग्रामीण बैंक अस्तित्व में आ चूका है. जिसका नाम पंजाब ग्रामीण बैंक है. वर्तमान में पंजाब में तीन ग्रामीण बैंक Sutlej Gramin Bank, Malwa Gramin Bank और Punjab Gramin Bank (PGB) थे.

नए संगठन का गठन
बैंक के मर्जर के बाद नए बैंक नयी यूनियन का भी गठन हो गया है. नए संगठन पंजाब ग्रामीण बैंक आफिसर्ज फेडरेशन का संगरूर के पाली राम बांसल को महासचिव नियुक्त किया गया।  इस बैठक में आल इंडिया पंजाब नेशनल बैंक इंप्लाइज फेडरेशन के राष्ट्रीय महासचिव कॉमरेड पीआर मेहता व एसोसिएशन के राष्ट्रीय ज्वाइंट सचिव कॉमरेड एसके गौतम ने शिरकत की। एसोसिएशन के राष्ट्रीय महासचिव कॉमरेड डीएन त्रिवेदी ने किया।


निजीकरण को बढ़ाबा दे रही सरकार
इस बैठक में कामरेड त्रिवेदी ने कहा, सरकार लगातार सरकारी बैंको को निजी हाथो में देने की तैयारी कर रही है. जिससे देश की अर्थव्यवस्था बर्बाद हो जायेगी। संगठन लगातार इसका विरोध करता आया है. और आगे भी करता रहेगा।
अपने उद्देश्य से भटकी ग्रामीण बैंक
कामरेड मेहता ने कहा, ग्रामीण बैंको को जिस उद्देश्य के साथ शुरू किया गया था. सरकार की गलत नीतियों के कारण आज ग्रामीण बैंक अपने उद्देश्य से ही भटक चुकें हैं.
कामरेड गौतम ने कहा, की ग्रामीण बैंको की परफॉरमेंस शुरू से राष्ट्रीयकृत बैंक से बेहतर रही है. लेकिन फिर भी सरकार ने हमेशा ग्रामीण बैंको के साथ सौतेला व्यवहार किया है. जिसे बर्दास्त नहीं किया जाएगा।


यह भी पढ़े..

चुने हुए पदाधिकारी
महासचिव पंजाब ग्रामीण बैंक ऑफिसर्स फेडरेशन- कामरेड पाली राम बंसल
महासचिव पंजाब ग्रामीण बैंक एम्प्लाइज फेडरेशन - कामरेड गुरनाम सिंह
नए ग्रामीण का प्रयोजक है, PNB


तीनों ग्रामीण बैंको के मर्जर के बाद बनें ग्रामीण बैंक का प्रायोजक पंजाब नेशनल बैंक होगा।  अभी तक Sutlej Gramin Bank का प्रायोजक Punjab & Sind Bank, Malwa Gramin Bank का प्रायोजक बैंक SBI और Punjab Gramin Bank (PGB)   का प्रायोजक बैंक PNB था. लेकिन तीनों बैंको के विलय के बाद बनने वाली नयी ग्रामीण बैंक का प्रायोजक बैंक PNB है. और नयी बैंक का नाम Punjab Gramin Bank (PGB) है.

405 ब्रांचो और 22  जिलों में होगा नेटवर्क


तीनों ग्रामीण बैंको के मर्जर से बनने वाले नया बैंक प्रदेश के 22 जिलों में काम करेगा। जिसकी कुल ब्रांचों की संख्या 405 होगी। इनमें Sutlej Gramin Bank की 31 ब्रांच, Malwa Gramin Bank की 89 ब्रांच तथा Punjab Gramin Bank की 285 ब्रांच शामिल की गई हैं.
अभी Sutlej Gramin Bank पंजाब के 6 जिलोंमालवा पंजाब के पाँच जिलों तथा Punjab Gramin Bank पंजाब के 13 जिलों के ग्रामीण इलाकों में काम कर रही हैं. लेकिन मर्जर के बाद  पुरे पंजाब के 22  जिलों में Punjab Gramin Bank (PGB) का नेटवर्क फ़ैल गया है. और इन तीनों बैंको की सभी शाखाएँ Punjab Gramin Bank (PGB)  की शाखाएँ अब Punjab Gramin Bank (PGB)  की शाखाएं बन चुकी हैं. तथा इन तीनों ही बैंक में काम करने वाले सभी कर्मचारी मर्जर के बाद Punjab Gramin Bank (PGB)  के कर्मचारी बन गए हैं.


यह भी पढ़े..


punjab-gramin-bank-pgb-sutlej-gramin-bank-malwa-gramin-bank-gramin-bank-news-gramin-bank-updates-gramin-bank-merger-government-amalgamates-three-regional-rural-banks-merges-punjabs-3-regional-rural-banks-merger-punjab-gramin-bank-bank-merger

Previous
Next Post »